'भूषण पुरस्कार’ से सम्मानित डॉ. सविता दीक्षित

blog-img

'भूषण पुरस्कार’ से सम्मानित डॉ. सविता दीक्षित

छाया:मैनिट डॉट ए सी डॉट इन

• तैयार किया सीमेंट का सस्ता विकल्प

भोपाल। मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मैनिट) की विज्ञानी डॉ. सविता दीक्षित को इंदौर के ‘माई मंगेशकर सभागृह’ में राज्यस्तरीय ‘प्रान्त भूषण पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। पर्यावरण संरक्षण पर निरंतर कार्य कर रही डॉ. सविता को टीचिंग एंड साइंस फील्ड के लिए 2023 का ‘मोस्ट इनोवेटिव प्रोफेसर ऑफ द ईयर’ पुरस्कार भी मिल चुका है। पर्यावरण संरक्षण पर उनके द्वारा किये गए कार्यों में फ्लाई ऐश एवं जिओ पॉलीमर का रेशियो एनालिसिस कर पेवर ब्लॉक बनाने तथा मिट्टी की उर्वरता को बनाए रखने के लिए सीमेंट के सस्ते विकल्प के तौर पर संशोधित कंक्रीट स्ट्रक्चर का आविष्कार प्रमुख हैं। डॉ. सविता के मुताबिक़ सीमेंट के साथ फ्लाई ऐश, संगमरमर का चूरा, जीजीबीए (चिमनियों से निकलने वाला कचरा) और सिलिका से पेवर (ईंट जैसी संरचना) ब्लॉक्स व अन्य प्रकार के  ब्लॉक्स बनाए जा सकते हैं। इनकी मजबूती भी सीमेंट से अधिक होगी और यह अपेक्षाकृत सस्ता भी पड़ेगा। उन्होंने इसे मॉडिफाइड कंक्रीट कंपोजिशन नाम दिया है। मैनिट ने इसका पेटेंट भी प्राप्त कर लिया है। इस शोध में उन्हें दो साल लगे। डा. सविता ने बताया कि इससे 30 प्रतिशत सीमेंट की बचत तो होगी ही, पर्यावरण की रक्षा भी होगी। डा. सविता इससे पहले पांच शोध कार्यों के लिए पेटेंट प्राप्त कर चुकी हैं।


सन्दर्भ स्रोत – दैनिक भास्कर/नई दुनिया

संपादन- मीडियाटिक डेस्क

Comments

Leave A reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप : भोपाल की
न्यूज़

सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप : भोपाल की , विद्यांशी ने स्वर्ण , नेहा ने जीता रजत

अकादमी की दोनों पदक विजेता खिलाड़ी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक नरेन्द्र राजपूत और सहायक प्रशिक्षक अनिल शर्मा के मार्गदर्शन...

55 की उम्र में भोपाल की
न्यूज़

55 की उम्र में भोपाल की , ज्योति ने फ़तह किया एवरेस्ट

ज्योति का माउंट एवरेस्ट की चोटी फतेह करने का यह दूसरा मौका था। इससे पहले 2023 में भी उन्होंने एवरेस्ट की चोटी तक पहुंचने...

एक माँ जिसने पहले पति, फिर बेटे को
न्यूज़

एक माँ जिसने पहले पति, फिर बेटे को , खोया लेकिन हालात से समझौता नहीं किया 

परवरिश ऐसी की तीन में से दो बेटे शिक्षक बने, दोनों को राष्ट्रपति पुरस्कार मिला 

कयाकिंगः रजनी ने पेरिस पैरालिंपिक के लिए किया क्वालीफाई
न्यूज़

कयाकिंगः रजनी ने पेरिस पैरालिंपिक के लिए किया क्वालीफाई

मप्र की तीसरी खिलाड़ी, जो पेरिस जाएंगी